बनाये पिंजरे से निकल कर देख | Motivational Attitude Shayari In Hindi

"दर्द, गम, डर जो भी है बस तेरे अंदर हैं.. 
खुद के बनाये पिंजरे से निकल कर देख
तू भी एक सिकंदर हैं.."

"Pain, sorrow, fear, whatever is inside you, just look out of your own cage.
You are also a Alexander "

Post a comment

0 Comments